मध्यप्रदेश में पूर्ण बहुमत से बनने जा रही है कांग्रेस सरकार, मतगणना में गड़बड़ी कर सकती है भाजपा-कमलनाथ

0
138

भोपाल. मध्यप्रदेश में इस बार कांग्रेस की सरकार बनेगी यह दावा कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने किया है। बुधवार को सीएम शिवराज सिंह चौहान की कैबिनेट बैठक के बाद प्रेस कॉन्फ्रेस के जबाव में कमलनाथ ने बयान दिया है। उन्होंने दावा किया है कि इस बार प्रदेश में पूर्णबहुमत के साथ कांग्रेस की सरकार बनेगी। इसके साथ ही उन्होंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और भाजपा पर आरोप लगाया है। कमलनाथ ने आरोप लगाते हुए कहा, प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने बाली है इसे देखते हुए मुख्यमंत्री मतगणना में गड़बड़ी करने की तैयारी करने के उद्देश्य से बांधवगढ़ गए हैं। मतगणना से पहले कैबिनेट बैठक बुलाकार शिवराज सिंह चौहान ने यह जताने की कोशिश की है कि उन्हें किसानों और जनता की बहुत चिंता है।

ईवीएम की गड़बड़ी में कुछ नहीं बोले सीएम: कमलनाथ ने कहा, सीएम ने ईवीएम में हो रही गड़बड़ियों पर एक शब्द भी नहीं बोला। इससे ऐसा लगता है कि इस पूरी गड़बड़ी में मुख्यमंत्री का संरक्षण मिला हुआ है। कमलनाथ ने दावा कि भाजपा सरकार कितनी भी गड़बड़िया कर लें जनता का जनादेश उनके साथ रहेगा। चुनाव आयोग से मांग करते हुए कमलनाथ ने कहा, आयोग शिवराज सिंह चौहान के तमाम दौरों, मुलाकातों व बांधवगढ़ यात्रा पर निगरानी रखे जो वोटिंग के बाद हुए हैं। उनके पास इसकी पुख्ता जानकारी है कि छुट्टियों के बहाने बांधवगढ़ जा रहे शिवराज सिंह की कई रिटर्निंग अफसरों से मुलाकात की तैयारी है। जिन-जिन क्षेत्रों में भाजपा हार रही है और कांगे्रस जीत रही है वहां चुनाव कार्य में लगे जिम्मेदार अधिकारियों पर दबाव, प्रभाव डाला जा रहा है।
माफी मांगे शिवराज : कमलनाथ ने कहा शिवराज सिंह ने मतदान में लगे कर्मचारियों का अपमान किया है और उन्हें माफी मांगना चाहिए। कमलनाथ ने कहा, शिवराज जी कह रहे है कि भाजपा को चुनाव आयोग ने अमानवीय तरीके से प्रताड़ित किया उन्होंने चुनावी कार्य में लगे कर्मचारियों का ऐसा कहकर अपमान किया है व उनकी निष्पक्षता पर संदेह व्यक्त किया है उन्हें संवैधानिक संस्था पर प्रताड़ना के मामले स्पष्ट करना चाहिये और इस पर माफी माँगना चाहिय

चुनाव आयोग से की थी मुलाकात : प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने वरिष्ठ कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल और विवेक तनखा के साथ 4 दिसंबर को मुख्य चुनाव आयुक्त से मिलकर ईवीएम/स्ट्रांग रूम की सुरक्षा एवं निष्पक्ष व पारदर्शी मतगणना सुनिश्चित करने की मांग की थी। इससे पहले कमलनाथ ने ट्विटर पर लिखा था, चुनावी कार्य में लगे सभी ज़िम्मेदार प्रशासन के अधिकरियों से अपील है कि वे लोकतंत्र के महापर्व के अवसर पर मतगणना तक निष्पक्षता का आचरण करें। मतदान के दौरान कुछ अधिकरियों की गड़बड़ी की हमें शिकायत मिली है। सभी कांग्रेसजन , कांग्रेस प्रत्याशियों से अपील 11 दिसम्बर मतगणना तक स्ट्रॉंग रूम व ईवीएम पर निगरानी रखे, विशेष सावधानी रखे। कांग्रेस की सरकार बनना तय है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here