एक दिवसीय जिला स्तरीय वृहद सम्मेलन में ऐसा क्या हुआ कि लगा जमावड़ा..

0
807

नीमच (दिलीप पाटीदार) नीमच जिला ग्राम विकास शिक्षण समिति द्वारा संचालित नीमच जिले के सभी सरस्वती शिशु मन्दिरों का एक दिवसीय जिला स्तरीय संयोजक मण्डल, प्रधानाचार्य, आचार्य परिवार सम्मेलन स्वर्णकार समाज धर्मशाला नीमच में मालवा प्रांत प्रमुख जुगल किशोर श्रोत्रिय, ग्राम भारती जिलाध्यक्ष नाथूसिंह चौहान, वरिष्ठ संयोजक देवीलाल नागदा भादवामाता, भाजपा जिला मंत्री सत्यनारायण(सत्तू) गोयल, ग्राम भारती जिला प्रमुख सुरेंद्रसिंह ठाकुर की उपस्थिति में माँ सरस्वती, ॐ, भारतमाता के चित्र पर माल्यार्पण, दीप प्रज्जलन एवं सरस्वती वंदना के साथ हुआ। उदघाटन सत्र में प्रान्त प्रमुख श्री श्रोत्रिय ने सम्बोधित करते हुए कहा कि विद्या भारती बहुत बड़ा प्रकल्प है जिसके अंतर्गत बहुत सारे छोटे छोटे प्रकल्प शिक्षा के क्षेत्र में अलख जगाने और शिक्षा की उत्तरोत्तर उन्नति के लिये सदैव प्रयासरत है इसी कड़ी में इन सभी प्रकल्पों में अपनी सेवा दे रहे आचार्य परिवार, कार्यकर्ताओ को आधुनिक तरीके से प्रशिक्षित करने ओर कौशल विकास के लिये उज्जैन में चिंतामन गणेश मन्दिर रोड़ पर सभी सुविधाओं से युक्त सम्राट विक्रमादित्य भवन के नाम से विद्या भारती प्रांतीय कार्यालय का निर्माण कार्य प्रारंभ हो रहा है, इस निर्माण कार्य में सभी का अंशदान हो, इस कार्यालय के प्रति सभी में अपनत्व की भावना रहे, इस दृष्टि से सभी से सहयोग हेतु योजना बनाई गई है। कार्यक्रम में भाजपा जिला मंत्री श्री गोयल ने भी सम्बोधित किया दिन भर चले इस सम्मेलन में संयोजक मण्डल, प्रधानाचार्य, आचार्य परिवार के साथ व्यवस्था प्रमुखों ने टोली अनुसार बैठकर योजना को जमीनी स्तर तक ले जाने के विषय में मंथन किया। समापन सत्र में प्रान्त प्रमुख श्री श्रोत्रिय ने प्रोजेक्टर के माध्यम से चार मंजिला बनने वाले आधुनिक प्रांतीय कार्यालय की पूरी व्यूह रचना विस्तृत रूप से सभी के समक्ष प्रस्तुत की। कार्यक्रम में मेनारिया समाज राष्ट्रीय अध्यक्ष, शिवाशिष सामाजिक संस्था अध्यक्ष जसराज मेहता के सौजन्य से सभी प्रधानाचार्य, आचार्य परिवार को सम्मेलन के प्रतीक चिन्ह स्वरूप स्टील की ट्रे भेंट की गई। सम्मेलन की संचालन टोली में नन्दकिशोर सोनी, सुनील पुरोहित, प्रहलादसिंह राठौड़, केशुराम रावत, कैलाश नागदा, दिलीप पाटीदार, लोकेश शर्मा, कन्हैयालाल कारपेंटर, विपुल श्रोत्रिय का सराहनीय सहयोग रहा। सम्मेलन का प्रभावी संचालन संकुल प्रवासी सुनील पुरोहित ने किया और अंत में आभार जिलाध्यक्ष नाथूसिंह चौहान ने माना सभी संयोजक मण्डल सदस्यों, प्रधानाचार्य, आचार्य परिवार के सहभोज के साथ सम्मेलन सम्पन्न हुआ। उक्त जानकारी जिला प्रचार प्रमुख कैलाश नागदा ने दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here