कक्षा तीसरी की छात्रा के साथ दुष्कर्म कर दरिदें ने झाडिय़ों में छोड़ा

0
380

मंदसौर । कक्षा तीसरी में पढऩे वाली 7 साल की नाबालिग के साथ दरिदें ने हेवानियत की हद पार कर दी। झाडिय़ों में मासूम के साथ दरिदंगी कर बदमाश ने उसे झाडिय़ों में ही छोड़ कर फरार हो गए। दूसरे दिन जब बुधवार को बदहाल अवस्था में मासूम घर जा रहे एक युवक ने देखा और पुलिस को सूचना दी। पुलिस मौके पर पहुंची और अस्पताल लेकर पहुंची। जहां चिकित्सीय परीक्षण के बाद बालिका के साथ दुष्कर्म की पुष्टि हुई। बाद में बालिका को इंदौर के लिए रैफर कर दिया।
बालिका मंगलवार को स्कूल से घर नहीं पहुंची थी। इस पर परिजनों ने तलाश करने के बाद कोतवाली थाने में पहुंचकर गुमशुदगी दर्ज कराई थी। पुलिस ने रात को ही नाकेबंदी शुरु कर दी थी, लेकिन बुधवार को बालिका का पता लगा। पुलिस मामले की जांच कर रही है और आरोपियों की तलाश में जुटी है। स्कूल से लेकर आसपास व अन्य क्षेत्रों में पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज खंगालना शुरु कर दिए है।
टिफीन, बैग व बोतल बया कर रहे हेवानियत की दास्ता
शैक्षणिक सत्र के शुरु होने के साथ ही नए टिफीन व बोतल व बैग के साथ नई पाठ्यपुस्तक लेकर कक्षा तीसरी की मासूम ने उत्साह के साथ स्कूल जाना शुरु ही किया था और दरिंदों ने उसे हेवानियत का शिकार बना दिया। घटना स्थल पर टिफीन बैग में रखी किताबें बिखरी हुई मिली। जो हैवानियत की दास्तंा बंया कर रहे थे। लक्ष्मण दरवाजा क्षेत्र के पास झाडिय़ों के समीप लापता हुई बालिका बाजार से घर जा रहे एक युवक को मिली। जिसने पुलिस को सूचना दी। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। और जिला अस्पताल लेकर आई। यहां पर पांच डॉक्टरों की पैनल ने बालिका का परीक्षण किया। इसके बाद इंदौर रैफर कर दिया। पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार ङ्क्षसह ने कहा कि बालिका के साथ दुष्कर्म हुआ है। चारों और टीमें लगा दी गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here