कहीं ऐसा तो नहीं विधायक सकलेचा ने जावद क्षेत्र से अपनी हार मान ली है

0
599

जावद यहां जैसे-जैसे चुनाव की तारीख 28 नवंबर नजदीक आ गई है वैसे भाजपा के जावद विधायक ओमप्रकाश सकलेचा के चेहरे पर हवाइयां उड़ चली है अब की जो मुकाबला हो रहा है निर्दलीय प्रत्याशी समंदर पटेल से हो रहा है वहीं कांग्रेस की ओर से राजकुमार हीरो उधर भाजपा के कद्दावर नेताओं ने सकलेचा का धीरे-धीरे साथ छोड़ना शुरू कर दिया है ग्रामीण इलाकों में भाजपा के झंडे बैनर कहीं नजर नहीं आ रहे हैं वहीं कई ग्रामीण इलाके ऐसे हैं जहां भाजपा प्रत्याशी ओमप्रकाश सकलेचा को गांव में घुसने नहीं दिया जा रहा है 15 वर्षों में जावद विधानसभा में विधायक ओमप्रकाश सकलेचा की कोई विशेष उपलब्धि नहीं रही आज भी किसान सिंचाई को लेकर सड़कों को लेकर स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर परेशान है सकलेचा के विधायक के रहते भाजपा कार्यकर्ताओं को तवज्जो नहीं देना यह सकलेचा की हार का मुख्य कारण बन सकता है उधर समंदर पटेल का ट्रैक्टर का निशान जावद विधानसभा एरिया में ग्रामीण इलाकों में जोर पकड़ता नजर आ रहा है वहीं राजकुमार अहीर का भी प्रचार जोर शोर से चल रहा है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here