कांग्रेस के स्थापना दिवस पर कमलनाथ सरकार के गौरवशाली एक वर्ष विषय पर 28 दिसंबर को होगा विशेष आयोजन ।

0
352

कांग्रेस के गौरवशाली इतिहास को गांधी परिवार ने ही रखा जीवित – अजीत काठेड़ ।
नीमच। कांग्रेस का 134 वां स्थापना दिवस 28 दिसंबर को बड़े उत्साह के साथ समुचे जिले में मनाया जायेगा। इस स्थापना दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्राी कमलनाथ के नेतृत्व में म.प्र. की सरकार ने 1 वर्ष का गौरवशाली कार्यकाल पूर्ण किया है। विस्तृत कार्यक्रम की जानकारी देते हुए जिला कांग्रेस के प्रवक्ता भगतवर्मा ने बताया कि म.प्र. कांग्रेस के निर्देश पर जिला कांग्रेस के मार्गदर्शन में यह ऐतिहासिक कार्यक्रम कांग्रेस कार्यालय गांधी भवन में नीमच में 28 दिसंबर को प्रातः 11 बजे आयोजित किया जा रहा है। 1 वर्ष के कांग्रेस के गौरवशाली इतिहास पर तथा कांग्रेस के 134 वें स्थापना दिवस पर एक संवाद कार्यक्रम आयोजित किया गया है। उक्त कार्यक्रम में प्रदेश कांग्रेस की ओर से नियुक्त समन्वयक मृणालपंत (महामंत्राी) विशेष रूप से उपस्थित रहकर कांग्रेस के गौरवशाली इतिहास तथा कमलनाथ सरकार के गौरवशाली 1 वर्ष पर अपना संबोधन कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को देंगे।
जिला कांग्रेस के अध्यक्ष अजीत काठेड़ ने अपने एक बयान में बताया कि कांग्रेस कार्यालय गांधी भवन नीमच में जिला कांग्रेस तथा ब्लाॅक कांग्रेस के तत्वाधान में यह कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। 28 दिसंबर को प्रातः 11 बजे से वंदे मातरम् गीत के साथ यह कार्यक्रम प्रारंभ होगा जिसमें संपूर्ण जिले के कांग्रेस के कार्यकर्ता विभिन्न प्रकोष्ठों के अध्यक्ष पूर्व विधायक तथा कांग्रेस के वरिष्ठ नेता उपस्थित रहेंगे। उन्होंने बताया कि अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी के द्वारा राष्ट्रीय स्तर पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ जानकारियाँ साँझा करने के लिये जिला स्तर पर यह कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। कांग्रेस शासन के गौरवशाली एक वर्ष से संबंधित कार्यक्रम संवाद के रूप में 10 जनवरी तक चलाया जायेगा श्री काठेड़ ने बताया कि विपरीत आर्थिक स्थिति के बावजुद भी कमलनाथ सरकार ने न केवल जनकल्याण के कई क्रांतिकारी निर्णय लिये है, बल्कि आमजनता के बीच विश्वास, आशा और भरोसा पैदा किया है। इसके साथ ही समाज को कमजोर करने वाले सभी तरह के माफिया के विरूद्ध अभियान चलाकर म.प्र. की जनता को एक पारदर्शी और मजबुत सरकार के तौर पर जनता के हितों की रक्षा करने वाली सरकार होने का संदेश दिया है। कांग्रेस के गौरवशाली परंपरा को लालबहादुर शास्त्राी, इन्दिरा गांधी, राजीव गांधी, श्रीमती सोनिया गांधी तथा राहुल गांधी ने जीवित बनाये रखा है। आजादी की लड़ाई में कई नेताओं ने अपने प्राण न्यौछावर कर दिये, कांग्रेस के कई स्वतंत्राता संग्राम सैनानी लंबे समय तक जेल में बंद रहे 28 दिसंबर को आयोजित कार्यक्रम में केन्द्र सरकार के जनविरोधी नीतियों को भी उजागर किया जायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here