किलेश्वर महादेव मंदिर नीमच की शाही सवारी निकली जगह जगह भव्य स्वागत हुआ।

0
890

नीमच जिले के सबसे प्राचीन व आस्था के केन्द्र श्री किलेश्वर महादेव की शाही सवारी शाही ठाठ बाट एवं राजसी वैभव के साथ रथ पर विराजमान होकर भगवान किलेश्वर महादेव नगर भ्रमण पर निकले और श्रद्धालुओं   को  धन्य धान्य से परिपूर्ण होने का आशीर्वाद प्रदान किया । वही भक्तों में  शाही सवारी का भव्य स्वागत करने की होड़ लग गयी थी  सामाजिक, धार्मिक व राजनैतिक संस्थाओं ने भ्रमण मार्ग पर पुश्पवर्शा से अभिनंदन किया भगवान भोलेनाथ को फूलों से सजाकर श्रृंगारित किया गया । भस्म आरती एवं शिवजी की बारात की झांकी प्रमुख आकर्षण का केन्द्र रही । शाही सवारी में सबसे आगे दो घोड़े   तथा उसके पिछे शाही कलश, स्वास्तिक ओम का चिन्ह लिये शाही सैनिक चलायमान थे भूतों की बारात के साथ छः आग से जलती मशालें  भी आर्कशण का केन्द्र रही । खुले ट्रक पर शंकर भगवान द्वारा आग से हवन करते  हुए मंत्रों के साथ आहूतिया दी । भोलेनाथ भबूत उड़ाते हुए चल रहे थे बग्गी में गणेश, हनुमान, राम और बाल हनुमान की झांकी सजाई गयी  थी जिसमें श्रवण, सलमान, निरंजन लौहार, डॉ लोकेश जोशी ने अभिनय किया साथ ही बग्गी में  राधा-कृश्ण की झांकी भी आर्कशण का केन्द्र बनी। राधा का अभिनय माही सचदेवा नई दिल्ली, कृश्ण का अभिनय विशाल राज तथा भूतप्रेत गौरव, रवि, डालचन्द्र, पुरण, किशन, सुरज, पंकज,   मोहित, गोलू ने प्रभावी अभिनय प्रस्तुत किया । तोप से फूलों की वर्शा की गयी  बैण्ड  पर भजनों  की स्वरलहरिया बिखर रही थी साथ  ही बच्चों की रेलगाड़ी  भी चल रही  थी आपके साथ आर्यवीर दल नारायणगढ़ के अखाड़े  साथ भूत प्रेत और भोलेकी बारात अपनी कला का हैरतअगेज प्रदर्शन कर रहे थे । शाही सवारी स्टेशन रोड़ किलेश्वर मंदिर से प्रारम्भ हुई । जो स्टेशन रोड़, चौकन्ना  बालाजी होकर  अग्रसेन वाटिका पहूॅची । कार्यक्रम संयोजक विक्की मित्तल  (एन.आर.), सहसंयोजक राजेन्द्र गर्ग  पप्पी सर, कमल बिंदल (डी.एफ.) ने बताया कि जहां से सवारी में  भगवान  भोलेनाथ का फुलो से श्रृगांरित रथ, स्वचालित विद्युत झांकिया, घोडे, बग्गी, रथ पर स्वांगधारी  आर्यवीर दल नारायणगढ़  के आर्कशक करतब, मनोज रिया एण्ड पार्टी दिल्ली द्वारा भव्य झांकी, भस्मा आरती एवं शिव बारात  झाबुआ, प्रमुख आर्कशक शामिल थी ।  सवारी अग्रसेन वाटिका, जाजू बिल्डिंग, श्रीराम मंदिर, श्रीराम चौक घंटाघर, नृसिंह  मंदिर, बजरंग चौक, बड़े बालाजी मंदिर, नया बाजार, बारादरी, फव्वारा चौक, सब्जी मंडी चोराहा, कमल चौक, लायंस प्लेटिनम चौराहा, सीआरपीएफ मार्ग से होते हुवे पुनः किलेश्वर मंदिर पहूॅंची । जहॉ महाआरती के बाद प्रसाद वितरण किया गया । नीमच शहर के भक्तों में उत्साह का माहोल देखा गया आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों से भी बड़ी संख्या में श्रद्धालु सहभागी बनें जिसमें जावद, रतनगढ़, मोरवन, अठाना, सरवानिया, नयागांव, रेवली देवली, मनासा, रामपुरा, चीताखेड़ा, छोटी सादड़ी, निम्बाहेड़ा से भी सहभागी बनें ।
भजनों पर झुमे श्रद्धालु -शाही सवारी के दौरान श्रद्धालु भक्तों द्वारा सज  रहे  भोले बाबा सुनहरी गोटे  में….लाल तिलवसा वालों यो बाबा भोलो भालों…..शिव नाम जपा करों जय-जय शिव शंकर, हर-हर महादेव शम्भु कांशी विश्वनाथ हर-हर गंगें नमो शिवाय नमो शिवाय जय शिव शंकर नमः में शंकर हर-हर महादेव…हे धन्य तेरी माया ओ दुनिया के रखवाले शिव शंकर डमरू वाले….आदि की स्वरलहरियां बिखर रही थी ।
इन्होने  किया  स्वागत  –
किलेश्वर की शाही सवारी का मार्ग में स्थान-स्थान पर पुश्पवर्शा कर स्वागत किया गया जिसमें श्रीराम  मंदिर पर माहेश्वरी समाज के   अध्यक्ष श्यामलाल बाहेती, नृसिंह मंदिर पर रामबाबू ऐरन ने शंख बजाकर, नपाध्यक्ष राकेश जैन, शिव माहेश्वरी, जीतू तलरेजा, अशोक शर्मा, भूपेन्द्र गौड बाबा, बजरंग चौक नया बाजार, भोजू का चौराहा पर भाजपा जिलाध्यक्ष हेंमत हरित ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here