गाली-गलौच कर लट्ठ से मारपीट करने वाले आरोपी को 06 माह का सश्रम कारावास एवं जुर्माना ।

0
409

नीमच। सुश्री शीतल बघेल, न्यायिक दण्डाधिकारी प्रथम श्रेणी, नीमच द्वारा एक आरोपी भाई को जमीन के विवाद के कारण उसके भाई को अश्लील गालीयां देकर लट्ठ से मारपीट किये जाने के आरोप का दोषी पाकर 06 माह के सश्रम कारावास तथा कुल 1,500रू. जुर्माने से दण्डित किया।

जिला लोक अभियोजन अधिकारी श्री आर. आर. चौधरी द्वारा घटना की जानकारी देते हुए बताया कि घटना लगभग 05 वर्ष पुरानी होकर दिनांक 14.07.2014 रात के 11 बजे की हैं। आहत नानूराम खाना खाकर सोने के लिए कुंवे पर जा रहा था कि नीमच सिटी स्थित मदनलाल के घर के सामने उसके भाई राजूलाल ने जमीन के विवाद के कारण उसको अश्लील गालीया दी, जब नानूराम ने गालीया देने से मना किया तो आरोपी ने लट्ठ से सिर पर मारा, जिससे खून निकलने लगा, नानूराम के चिल्लाने की आवाज सुनकर किशनलाल ने बीच-बचाव किया। नानूराम के पुत्र प्रेमलाल ने घटना की रिपोर्ट पुलिस थाना नीमच सिटी पर की, जिस पर से अपराध क्रमांक 308/14, धारा 323, 294 भादवि के अंतर्गत पंजीबद्ध किया गया। पुलिस नीमच सिटी द्वारा विवेचना के दौरान आहत नानूराम का मेडिकल कराने के बाद शेष विवेचना पूर्ण कर चालान न्यायालय में प्रस्तुत किया।

श्री चन्द्रकांत नाफडे, ए.डी.पी.ओ. द्वारा अभियोजन पक्ष की ओर से न्यायालय में आहत नानूराम, चश्मदीद सहित सभी आवश्यक गवाहों के बयान कराकर अपराध को प्रमाणित कराकर, दण्ड के प्रश्न पर तर्क दिया कि आरोपी द्वारा लट्ठ से की गई मारपीट के परिणामस्वरूप आहत को आई चोटो की प्रकृति को देखते हुए उसे कठोर दण्ड से दण्डित किया जाये। सुश्री शीतल बघेल, न्यायिक दण्डाधिकारी प्रथम श्रेणी, नीमच द्वारा आरोपी राजूलाल पिता हजारीलाल भील, उम्र-40, निवासी-ग्राम आमलीखेडा, तहसील व जिला नीमच को धारा 323, 294 भादवि (अश्लील गालीया देना व मारपीट करना) में कुल 06 माह के सश्रम कारावास व 1,500रू. जुर्माने से दण्डित किया, साथ ही आहत नानूराम को 1000रू प्रतिकर प्रदान करने का आदेश भी दिया। न्यायालय में शासन की और से पैरवी श्री चन्द्रकांत नाफडे, एडीपीओ द्वारा की गई ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here