चोरी करने वाले 2 आरोपीगण की जमानत खारिज कर जेल भेजा।

0
538
नीमच। श्री सदाशिव दांगौडे़, न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी, नीमच द्वारा चोरी करनें वाले 2 आरोपीगण द्वारा प्रस्तुत जमानत आवेदन खारिज कर जेल भेजा।

 

अभियोजन मीडिया सेल को एडीपीओ श्रीमति कीर्ति चाफेकर ने जानकारी देते हुए बताया कि घटना दिनांक 17.09.2019 को रात्रि 9 बजे के बाद थाना-बघाना, नीमच की हैं। फरियादी के अनुसार उसका ग्राम लेवडा के खडाबदा रोड पर हौजीयरी कपडे सिलनें का कारखाना है, जिसमें 8 सिलाई मशीनें, कपडें काटनें का कटर, लोवर आदि रखें थे। घटना दिनांक को फरियादी मनीष पिता कैलाश नामदेव कारखाना बंद करके अपनें घर आ गया था। जब वह दुसरें दिन अपनें कारखानें पर आया तब देखा की कारखानें के दरवाजा का ताला टूटा हुआ था और अंदर जाकर देखा तो 2 सिलाई मशीन, अन्य सिलाई मशीनों की मोटर, कपडे काटनें का कटर व लगभग 17 लोवर नहीं दिखे कोई अज्ञात व्यक्ति सामान चूराकर ले गया था। जिस पर से पुलिस थाना बघाना में अपराध क्रमांक 260/19 धारा 457, 380 भादवि में पंजीबद्ध किया गया। पुलिस थाना बघाना ने विवेचना के दौरान पूछताछ व तहकीकात करके आरोपीगण को गिरफ्तार किया गया, इसके बाद न्यायालय में आरोपीगण द्वारा जमानत आवेदन प्रस्तुत किया गया।

 

श्रीमति कीर्ति चाफेकर, एडीपीओ द्वारा आरोपी द्वारा प्रस्तुत जमानत आवेदन का घोर विरोध करते हुए तर्क रखा कि आरोपीगण काफी शातिर बदमाश है। आरोपीगण के विरूद्ध छोटी सादडी में भी कई अपराध पंजीबद्ध है, जिसमें सजा भी हो चूकी है व थाना बघाना में भी आरोपीगण की नकबजनी के अपराध में गिरफ्तारी की जा चूकी है, जो प्रकरण अभी विवेचना में है। आरोपीगण आदतन अपराधी है अगर माननीय न्यायालय द्वारा जमानत स्वीकार की गई तो, आरोपीगण के होसले बुलंद होगे व आरोपीगण का अपराध के प्रति भय समाप्त हो जायेगा। जिससे आरोपी द्वारा प्रस्तुत जमानत आवेदन निरस्त किया जाना उचित प्रतित होता है। अभियोजन के तर्को से सहमत होकर श्री सदाशिव दांगौडे़, न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी, नीमच द्वारा आरोपीगण (1) भंवरसिंह उर्फ भूरालाल पिता सुखलाल, उम्र-21, निवासी ग्राम केसुन्दा, थाना-छोटी सादडी, जिला राजस्थान तथा (2) भूरालाल पिता शांतिलाल  उम्र-22 वर्ष निवासी ग्राम धामनिया, थाना-छोटी सादडी, जिला राजस्थान द्वारा प्रस्तुत जमानत आवेदन खारिज कर आरोपीगण को जेल भेजने का आदेश दिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here