*जल संसाधन विभाग से चर्चा कर कलेक्टर ने गांधी सागर के पांच बड़े व सात छोटे गेट खोलने के दिए निर्देश* मंदसौर 28 अगस्त 19/ कलेक्टर श्री मनोज पुष्प ने बताया कि मंदसौर, नीमच, रतलाम, इंदौर, उज्जैन जिले में अधिक वर्षा एवं नदी नालों में पानी की अधिक मात्रा को ध्यान में रखते हुए प्रातः 9 बजे तक गांधी सागर बांध के पांच बड़े व सात छोटे गेट खोलने के लिए निर्देश दिए गए हैं। इस संबंध में जल संसाधन विभाग मंदसौर, नीमच, कोटा, श्योपुर, उज्जैन, इंदौर से भी विस्तार से चर्चा की गई। गांधी सागर के गेट खोलने से आम जन सतर्क हो जाए। इसके लिए जल से प्रभावित होने वाले जिले कोटा, श्योपुर के कलेक्टर एवं चंबल संभाग के कमिश्नर से भी कलेक्टर के द्वारा चर्चा की गई एवं सुरक्षा के संबंध में हिदायत बरतने की बात भी कही। जिसमे गांधीसागर के पांच बड़े गेट खोले जायगे। जिससे 1 लाख 44 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा जाएगा। साथ 7 छोटे गेट खोले जायगे। जिससे 1 लाख 36 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा जाएगा। टोटल गांधीसागर बांध से 2 लाख 80 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा जाएगा। वही राणा प्रताप सागर के 9 बड़े गेट खोले जाएंगे। जिससे 2 लाख 90 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा जाएगा। कोटा बैराज के 18 गेट खोले जाएंगे। जिससे 2 लाख क्यूसेक पानी छोड़ा जाएगा। सर्वसाधारण की ओर सूचनार्थ।

0
243

मंदसौर 28 अगस्त 19/ कलेक्टर श्री मनोज पुष्प ने बताया कि मंदसौर, नीमच, रतलाम, इंदौर, उज्जैन जिले में अधिक वर्षा एवं नदी नालों में पानी की अधिक मात्रा को ध्यान में रखते हुए प्रातः 9 बजे तक गांधी सागर बांध के पांच बड़े व सात छोटे गेट खोलने के लिए निर्देश दिए गए हैं। इस संबंध में जल संसाधन विभाग मंदसौर, नीमच, कोटा, श्योपुर, उज्जैन, इंदौर से भी विस्तार से चर्चा की गई। गांधी सागर के गेट खोलने से आम जन सतर्क हो जाए। इसके लिए जल से प्रभावित होने वाले जिले कोटा, श्योपुर के कलेक्टर एवं चंबल संभाग के कमिश्नर से भी कलेक्टर के द्वारा चर्चा की गई एवं सुरक्षा के संबंध में हिदायत बरतने की बात भी कही। जिसमे गांधीसागर के पांच बड़े गेट खोले जायगे। जिससे 1 लाख 44 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा जाएगा। साथ 7 छोटे गेट खोले जायगे। जिससे 1 लाख 36 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा जाएगा। टोटल गांधीसागर बांध से 2 लाख 80 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा जाएगा। वही राणा प्रताप सागर के 9 बड़े गेट खोले जाएंगे। जिससे 2 लाख 90 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा जाएगा। कोटा बैराज के 18 गेट खोले जाएंगे। जिससे 2 लाख क्यूसेक पानी छोड़ा जाएगा। सर्वसाधारण की ओर सूचनार्थ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here