जशन ए गरीब नवाज बड़ी शानो शोकत से मनाया गया।

0
184

न्यूजीलैंड के मज़लूम मरहूम शहीदों के लिए उठे दुआ के हाथ

@हबीब राही जावद। मदरसा फैज़ुल ओलिया में जश्न गरीब नवाज मनाया गया जिस में जावद के सभी मदरसों के तलबा ने गरीब नवाज़ की शान में नात ओर मनकबत पड़ी और मस्जिदों के इमामो ने भी नात पड़ी । आशिके गरीब नवाज ने बड़ चढ़ कर हिस्सा लिया।
जिसमे मुक़रीरिरे ख़ुसूसी आले नबी औलादे अली ,औलादे गौसे आज़म हज़रत अल्लामा मौलाना अल्हाज सैयद मोहम्मद आक़िल साहब अख्तरुल क़ादरी(शहर काज़ी जावद)ने शिरकत की व सीरते गरीब नवाज़ पेश की ।
रौनके स्टेज सैयद आदिल रज़ा क़ादरी (तहसील सदर बज़्म ए क़ादरी, T.T.S. , ईमान तंज़ीम ), मौलाना ओहउदुद्दीन साहब (इमाम अठाना मस्जिद) हाफिज फरीद क़ादरी साहब, हाफिज उस्मान साहब क़ादरी, हाफिज समीर साहब क़ादरी,व इमाम साहब मस्जिद रामपुरा दरवाजा जावद मौजूद रहे ।
हज़रत सैयद मोहम्मद आक़िल साहब अख्तरुल क़ादरी(शहर काज़ी जावद) ने न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च की दो मस्जिदों में शुक्रवार को हुए कत्लेआम में 49 नमाजियों शहीद होने के मामले में गहरे अफसोस का इजहार किया है। हज़रत सैयद मोहम्मद आक़िल साहब अख्तरुल क़ादरी(शहर काज़ी जावद) ने इसे दर्दनाक हादसा बताते हुए कड़े शब्दों में इसकी निंदा की है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि इससे यह साबित होता है कि दहशतगर्दी का कोई मजहब नहीं होता। और मुल्क मे अमन सुकून कायम रहे इसके लिए दुआ फरमायी। जनाब मुफ़्ती सय्यद साबिर अली साहब के वालिद बुज़ुर्गवार अल्हाज सूफ़ी सय्यद मुख्तार अली साहब मरहूम के लिए दुआए मग़फ़िरत फ़रमाई ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here