ज्ञानोदय के विद्यार्थियों ने सीखा पादप प्रजनन की सहायता से फसलों में नई किस्मों का विकास करना

0
50

दिनांक 14 फरवरी 2019 को ज्ञानोदय ग्रुप ऑफ़ इंस्टीट्यूट कनावटी नीमच के सीड टेक्नोलॉजी विभाग के विद्यार्थियों को प्रोफेसर रविकांत मेनारिया के नेतृत्व में ओसवाल सीड कंपनी प्राइवेट लिमिटेड, (मालखेड़ा रोड ) नीमच के बीज उत्पादक क्षेत्र पर ले जाया गया जहां पादप प्रजनक रवि नागदा एवं कृष्ण गोपाल नागदा जोकि गेहूं, सरसों, चने, मक्का आदि फसलों पर पादप प्रजनन की क्रिया द्वारा नई-नई किस्मों को विकसित करने के प्रयास में निरंतर कार्यरत हैं रवि एवं कृष्ण गोपाल द्वारा विद्यार्थियों को पादप प्रजनन की सारी गतिविधियां जैसे परागण, निषेचन, संकरण नई किस्मों का विकास, विपुनसिकरण इत्यादि विषयों के बारे में प्रायोगिक कार्य के माध्यम से समझाया गया तथा विद्यार्थियों द्वारा पूछे गई गए सभी सवालों एवं प्रश्न का जवाब पादप प्रजनको द्वारा विद्यार्थियों को दिया गया तथा विद्यार्थियों को यह भी बताया गया कि एक खेत में जितना बीज आवश्यक हो केवल उतना ही बीज खेत में बुवाई के लिए डालें आवश्यकता से अधिक बीज डालने पर फसलों की जड़ों में फुटाओ कम होता है तथा फसल वृद्धि में कई तरह की समस्या आती है कृषि से संबंधित छात्रों ने पादप प्रजनन की यह क्रिया अपने अपने खेतों में करने की भी बात कही

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here