ट्रामा सेंटर के नाम पर खुले आम हो रही लूट । ट्रामा सेंटर से भी रेफर किए जा रहे मरीज, सुविधा बनी दुविधा- संदीप राठोर

0
313

नीमच में दो साल से बन कर तैयार हो चुके ट्रामा सेंटर को शुरू किए जाने को लेकर काफी जद्दोजहद चलती रही लेकिन वो शुरू नहीं हो पाया था.यहां तक की प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह द्वारा ट्रामा सेंटर के उद्घाटन किये जाने के बावजूद भी यह चालू नहीं हुआ. जैसे ही सीएम की जन आशीर्वाद यात्रा का नीमच का कार्यक्रम बना तो इसे ताबड़तोड़ शुरू कर दिया गया लेकिन यहां वो सुविधाएं नहीं मिल पा रही है जो ट्रामा सेंटर में मिलनी चाहिए.आज भी यहां से गंभीर मरीजों को रेफर ही किया जा रहा है जिसे लेकर जहा आम जनता काफी परेशान हैं तो वहीं इस मुद्दे को भाजपा नेता भुनाने में लगे हैं ।
यह बात यहां जारी प्रेस नोट में जिला अस्‍पताल संघर्ष समिति के सदस्‍य संदीप राठौर ने कही उन्‍होने कहा कि नीमच के ट्रामा सेंटर जिस मकसद के लिए बनाया गया था वह कहीं नजर नहीं आ रहा है आज भी यहां मरहम-पट्टी के अलावा मरीजों को कोई लाभ इससे नहीं मिल पा रहा है. ट्रामा सेंटर में जो गहन चिकित्सा इकाई के साधन संसाधन होना चाहिए, वह यहां नजर नहीं आ रहे. ना यहां के लिए कोई स्पेशलिस्ट डॉक्टर है न स्टाफ यहां है ।
श्री राठौर ने कहा कि ट्रामा सेंटर को केवल विधानसभा चुनाव को लेकर विधायक साहब ने नाम मात्र के लिए बार बार आम जनता की मांग को देखते हुए शुरू कर दिया है करीब ४ करोड़ रुपए की लागत से करीब २५ हजार स्क्वायर फीट में ट्रामा सेंटर का निर्माण करवाया गया । ताकि यहां विभिन्न रोगों के विशेषज्ञों को तैनात कर जिलेवासियों को उन उपचार सुविधाओं का लाभ प्रदान किया जा सकें, जिसके लिए अभी तक मरीज को रेफर किया जाता है या मरीजों को बड़े शहरों की ओर रूख करना पड़ता था उन्‍हे यही अच्‍छा ईलाज मिल सकें। लेकिन ट्रामा सेंटर चिकित्सकों के अभाव में खुद मरीज होने लगा है ऐसे में जिम्मेदारों ने इसे शुरू तो कर दिया। लेकिन सुविधा के नाम पर कोई बढ़ोतरी नहीं होने से ट्रामा सेंटर की शुरूआत से मरीजों को कोई लाभ मिलते नजर नहीं आ रहा है।
श्री राठौर ने अरोप लगाते हुवें कहा कि स्‍थानिय डॉक्‍टर व भाजपा के जनप्रतिनिधि अपने कमिशन के चक्‍कर में डॉक्‍टर यहां से अभी दूसरे राज्‍यों में रैफर कर रहे है जिसके चलते मरीजों के परिजनों को भारी पड रहा है अपने आपको जनता की सरकार कहरने वाली भाजपा सरकार के जनप्रतिनिधियों के राज में जनता को चूना लगाया जा रहा है ट्रामा सेंटर का मतलब होता है कि जो गंभीर मरीज है जिन्‍हे उदयपुर रैफर किया जा है उनका ईलाज यहां हो सकें ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here