तीन दिवसीय गरबा उत्सव का जमकर विरोध, हिंदूवादी नेता बोले यह है धर्म संस्कृति का अपमान ।

0
306

हिंदू धर्म बहुत ही पवित्र धर्म है जिसमें हर एक पूजा विधि कर्मकांड के लिए नीति नियम निर्धारित है । लेकिन जब भी व्यवसाय को प्रमुखता बनाते हुए धर्म संस्कृति का अपमान किया जाता है तो विरोध के स्वर उठना स्वभाविक है ऐसा ही नीमच में हो रहा है दरअसल नीमच में एक कला प्रबंधन संस्था तीन दिवसीय गरबे का आयोजन स्थानीय राठौर परिसर में करने जा रही है । जिसका शहर के विभिन्न धार्मिक समाजसेवी संस्थाओं सहित हिंदूवादी नेताओं द्वारा विरोध किया जा रहा है । जैसे जैसे संस्था के तीन दिवसीय गरबा आयोजन का प्रचार बढ़ रहा है वैसे वैसे ही धर्म प्रेमी जनता के मन में आक्रोष भी पनप रहा है ।
दरअसल यह मामला बीते कल जिला शांति समिति की बैठक में जिला कलेक्टर कार्यालय में उठा जहां पर हिंदूवादी नेता बाबूलाल नागदा सहित उनके साथियों ने जिला कलेक्टर और जिला पुलिस अधीक्षक के सामने तीन दिवसीय गरबा आयोजन को अनुमति नहीं देने और आयोजन पर पाबंदी लगाने की मांग की, जिस पर जिलाधिकारी और ने कार्रवाई का आश्वासन दिया गया ।
हिंदूवादी नेता बाबूलाल नागदा, प्रसिद्ध अधिवक्ता प्रवीण मित्तल और प्रवीण शर्मा ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि शहर की एक संस्था 16 17 18 अक्टूबर को राठौड़ परिसर में तीन दिवसीय गरबा उत्सव का आयोजन करने जा रही है जिसमें गरबा नृत्य के नाम पर व्यवसाय किया जा रहा है पैसे लेकर गरबे में भाग लेने दिया जाएगा । जिसके प्रचार-प्रसार में कहीं भी धार्मिकता और मातारानी की भक्ति का जिक्र नही किया गया । गरबा नृत्य जैसे पवित्र कला का प्रचार-प्रसार में गरबा रास का नाम दिया गया । प्रचार के वीडियो में फूहड़ता अश्लीलता झलक रही है इसलिए इस आयोजन का विभिन्न हिंदू संगठनों द्वारा विरोध किया जाएगा । उन्होंने कहा कि यदि आयोजन करना है तो पूरे 9 दिवसीय आयोजन किया जाए, और निशुल्क आयोजन किया जाए, जिसमें मां आद्यशक्ति की सम्मान के साथ नौ दिवसीय घट स्थापना की जाए ।
नेताओं ने कहा कि इस संदर्भ में राठौर परिसर प्रबंधक, टेंट प्रबंधन को भी चेतावनी दी जाएगी राठौर परिसर में 12 महीने विभिन्न धर्म गुरु अपनी गुरु वाणी से शहरवासियों को आशीर्वचन देते हैं और उस जमीन पर इस तरह धर्म का अपमान नहीं होने दिया जाएगा ।
वहीं इस संदर्भ में हिंदू भगवा वाहिनी के जिलाध्यक्ष अमित शर्मा ने भी मोर्चा खोलते हुए कह दिया कि किसी भी परिस्थिति में इस आयोजन को नहीं होने दिया जाएगा बताया गया कि विभिन्न हिंदू नेता और सामाजिक संगठन है इस संदर्भ में आगामी दिनों में जिला कलेक्टर और जिला पुलिस प्रशासन को आपत्ति पत्र सौंपेंगे ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here