दुकानदार के साथ मारपीट करने वाले एक ही परिवार के 3 लोगो को 3-3 माह का सश्रम कारावास।

0
170

नीमच। श्रीमती सुषमा त्रिपाठी, न्यायिक दण्डाधिकारी प्रथम श्रेणी, नीमच द्वारा 3 आरोपीगण को दुकानदार से मारपीट करने के आरोप का दोषी पाकर 3-3 माह के सश्रम कारावास एवं 200-200रू. जुर्माने से दण्डित किया।

अभियोजन मीडिया सेल को श्री चंद्रकांत नाफड़े, एडीपीओ नें जानकारी देते हुए बताया कि घटना लगभग 2 वर्ष पुरानी होकर दिनांक 14.05.2018 शोरूम चौराहा, जिला नीमच की हैं। घटना दिनांक को फरियादी नेमीचंद अपनी दुकान पर बैठा था, आरोपी ईश्वरलाल ने दुकान पर आकर फरियादी से शॉकप का कीमत पूछी, तब कीमत को लेकर आरोपी, फरियादी के साथ विवाद करने लगा, इतने में आरोपी के माता-पिता भी दुकान पर आ गये और तीनो ने मिलकर फरियादी के साथ मारपीट की, चिल्लाने की आवाज को सुनकर फरियादी का भाई गोविंद ने आकर बीच-बचाव किया तो आरोपीगण ने गोविंद के साथ भी मारपीट की और दुकान का सामान बिखेर दिया फिर तीनो आरोपीगण वहॉ से भाग गये। इसके बाद फरियादी ने घटना की रिपोर्ट पुलिस थाना नीमच केंट पर की, जिस पर से अपराध क्रमांक 263/2018, धारा 323/34 भादवि के अंतर्गत पंजीबद्ध किया गया। पुलिस नीमच केंट द्वारा आहतगण का मेडिकल कराकर शेष विवेचना उपरांत चालान न्यायालय में प्रस्तुत किया गया।

श्री चंद्रकांत नाफड़े, एडीपीओ द्वारा न्यायालय में विचारण के दौरान फरियादी सहित सभी आवश्यक गवाहों के बयान न्यायालय में कराकर अपराध को संदेह से परे प्रमाणित कराया गया। अभियोजन की ओर से तर्क किया गया कि आरोपीगण द्वारा एकमत होकर फरियादी और उसके भाई के साथ मारपीट कर चोटे पहुचाई हैं, इसलिए आरोपीगण को कठोर दण्ड से दण्डित किया जाये। श्रीमती सुषमा त्रिपाठी, न्यायिक दण्डाधिकारी प्रथम श्रेणी, नीमच द्वारा आरोपीगण (1) ईश्वरलाल पिता रोशन, उम्र-20 वर्ष, (2) रोशन पिता हीरालाल, उम्र-55 वर्ष व (3) गुड्डीबाई पति रोशन, उम्र-50 वर्ष, तीनो निवासीगण ग्राम-गिरदौड़ा, जिला नीमच को धारा 323/34 में 3-3 माह के सश्रम कारावास व 200-200रू. जुर्माने से दण्डित किया। न्यायालय में शासन की ओर से पैरवी श्री चंद्रकांत नाफड़े, एडीपीओ द्वारा की गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here