नाली तोड़ने की बात को लेकर मां बेटे के साथ मारपीट करने वाले को सजा एंव जुर्माना।

0
205

नीमच-जिला न्‍यायालय के नरेन्द्र कुमार भंडारी न्यायिक दण्डाधिकारी प्रथम श्रेणी नीमच द्वारा दो आरोपियों को माँ-बेटे के साथ मारपीट करने के आरोप का दोषी पाकर न्यायालय उठने तक के कारावास एवं 1000-1000रू. जुर्माने से दण्डित किया

जिला अभियोजन अधिकारी आर आर चौधरी द्वारा घटना की जानकारी देते हुए बताया कि घटना लगभग 06 वर्ष पुरानी होकर दिनांक 04.11.2012 को शाम के 6.30 बजे फरियादी अनिल के ग्राम-अड़मालिया स्थित घर के सामने की है घटना दिनांक को फरियादी अनिल के घर के सामने ग्राम पंचायत द्वारा सड़क निर्माण की जा रही थी जिस कारण घर के बाहर बनी पक्की नाली तोड़ दी थी इसलिए वह सरपंच को बुलाकर लाया तब सरपंच के साथ आये दो आरोपियों से कहा की तु काम में अड़ंगा मत लगा और ऐसा बोलकर दोनों ने फरियादी के साथ लात-घुसों से मारपीट शुरू कर दी जब फरियादी की माँ सुशीलाबाई बचाने आई तो दोनों आरोपियों ने उनके साथ भी मारपीट की मौके पर मौजुद श्रवण विनोद व प्रमोद ने बीच-बचाव किया अनिल ने घटना की रिपोर्ट पुलिस थाना बघाना में की जिस पर से अपराध क्रमांक 236/12, धारा 323/34 भादस का पंजीबद्व किया गया पुलिस बघाना द्वारा दोनों आहत माँ-बेटे का मेडिकल कराने के बाद शेष विवेचना उपरांत चालान न्यायालय में प्रस्तुत किया

श्रीमति कीर्ति शर्मा एडीपीओ द्वारा अभियोजन की और से दोनों आहत माँ-बेटे एंव चश्मदीदों सहित सभी आवश्यक गवाहों के बयान न्यायालय में कराकर अपराध को प्रमाणित कराया गया जिस पर न्यायिक दण्डाधिकारी नरेन्द्र कुमार भंडारी द्वारा आरोपीगण (1) शैलेन्द्रसिंह पिता दशरथसिंह, उम्र-34 वर्ष तथा (2) रघुवीरसिंह पिता केशरसिंह राजपुत, उम्र-43 वर्ष, दोनों निवासी ग्राम-अड़मालिया, जिला-नीमच को धारा 323/34 भादवि (एकमत होकर मारपीट करना) में न्यायालय उठने तक की सजा एवं 1000-1000रू. जुर्माने से दण्डित किया, साथ ही दोनों आहत माँ-बेटे को 2000रू. प्रतिकर प्रदान करने का आदेश दिया

उक्‍त सफल कार्रवाई मे न्यायालय में शासन की और से पैरवी श्रीमति कीर्ति शर्मा, एडीपीओ द्वारा की गई

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here