नीमच जिले में नगरपालिका के जिम्मेदार मोन? मासूम बच्चो को कुत्ते के काटने से बचाने के लिए कार्यवाही नहीं वही दूसरी और नीमच में मानवता को शर्मसार करने वाली घटनाये होती है पशुओ को बेरहमी से पीटना व हत्या करना ऐसी अमानवता कब तक?

0
19

नीमच – नीमच जिले मैं प्रशासन की चुप्पी नीमच के नागरिकों को खतरे में डाल रही है अगर आवारा पशु जिसमें गाय बैल कुत्ता आदि किसी को नुकसान पहुंचाता है तो नगरपालिका का इस और ध्यान नहीं है अगर कोई आवारा कुत्ता किसी मासूम बच्चे बच्चों को काटता है तो नीमच नगर पालिका इस ओर ध्यान नहीं देती आखिर क्यों ? आपको बता दें कि तकरीबन 3 से 4 रोज मासूम बच्चे शिकार हो रहे हैं और जिला चिकित्सालय में अपना इलाज करा रहे हैं मगर पहले कुत्ते पकड़ने वाली गाड़ियां घूमती थी अब तो वह भी नहीं घूम रही प्रशासन की चुप्पी बहुत नुकसानदायक है और अगर किसी पशु पर क्रूरता होती है तो भी प्रशासन का इस ओर ध्यान नहीं है आपको बता दें कि अभी एक-दो दिनों से नीमच जिले में एक वीडियो व्हाट्सएप पर वायरल हो रहा है जिसमें विजेंद्र दास नामक युवक जो की बांग्ला नम्बर 19 निवासी एक कुत्ते के बच्चे को बेरहमी से पीटता है और भारी लट्ठ से इस कदर पीटता है कि उसकी कमर ही टूट जाती है उस कुत्ते के बच्चे की मात्र इतनी सी गलती थी कि अपनी चंचलता से मस्ती भरे अंदाज में उसने इधर-उधर खेलते हुए कुत्ते के बच्चे ने बाइक की सीट को नोच दिया जिसमें बाइक वाहन मालिक ने देखा और उस कुत्ते के बच्चे को इस कदर पीटा कि उसकी कमर ही टूट गई मुंह से खून निकलने लगा यह वीडियो वायरल जैसे ही हुआ नीमच के जागरूक नागरिकों ने एवं पशु सेवको ने देखा इस मामले को गंभीरता से लेते हुए नीमच कैंट थाना प्रभारी महोदय को आवेदन दिया एवं उसमें उल्लेख किया कि ऐसे व्यक्तियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई हो जो पशु क्रूरता करते हैं एवं क्रूरता अधिनियम के तहत 428 ,429 आईपीसी धारा के अधिनियम कार्रवाई करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here