नीमच मेड़िकल कालेज कि माँग को लेकर प्रेस क्लब के माध्यम से विभिन्न सामाजिक संस्थाओ ने दिया कलेक्टर को प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन । बड़ी संख्या में उपस्थित थे कई वरिष्ठ जन

0
153

नीमच मेड़िकल कालेज कि माँग को लेकर प्रेस क*** नीमच। मेडिकल कॉलेज की मांग ने जोर पकड़ना शुरू कर दिया है। बुधवार को नीमच में मेडिकल कॉलेज खोलने की मांग को लेकर सर्वसमाज ने एकजुटता का परिचय दिया और पीएम-सीएम के नाम कलेक्टर अजयसिंह गंगवार को ज्ञापन सौंपा। इसके पूर्व कलेक्टोरेट में एक घंटे तक धरना दिया गया। धरना प्रदर्शन में सभी ने समाजजनों ने एक बात कही, नीमच को मिल मेडिकल कॉलेज की सौगात।

उल्लेखनीय है कि स्वास्थ्य सुविधाएं में पिछले पिछड़े हुए नीमच जिले की जनता लंबे समय मेडिकल कॉलेज की मांग कर रही है, लेकिन नीमच के बजाए मेडिकल कॉलेज मंदसौर में खोले जाने की बात सामने आई है, जिसके कारण नीमच जिले की जनता में आक्रोश पनप रहा है। पूर्व में गांधी वाटिका में नीमच जिले के नागरिकों की बैठक में मेडिकल कॉलेज की मांग को जन आंदोलन बनाने का निर्णय लिया गया था

उसी कड़ी में बुधवार को जिला प्रेस क्लब के आव्हान पर मेडिकल कॉलेज की मांग को लेकर जिला प्रेस क्लब के बेनर तले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, मुख्यमंत्री कमलनाथ व केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा गया, जिसमें बताया गया कि नीमच जिला प्रदेश के अंतिम छोर पर है और स्वास्थ्य सुविधाओं के मामले में पूरी तरह पिछड़ा हुआ है। नीमच जिले की जनता को इंदौर, उदयपुर और अहमदाबाद जाना पड़ता है, जिसमें से सबसे अधिक गरीब तबका परेशान होता है। मेडिकल कॉलेज खुलने से नीमच की जनता को राहत मिलेगी और स्वास्थ्य सुविधाओं का भी विस्तार होगा।

धरना दिया, विचार रखे-

ज्ञापन देने के पूर्व कलेक्टोरेट परिसर में धरना दिया गया। इस मौके पर नीमच मेडिकल कॉलेज की जरूरत क्यों, इस विषय पर सभी अपने-अपने विचार रखे। सबसे पहले डॉ. राजेंद्र एरन ने बताया कि नीमच से रतलाम और उदयपुर की दूरी 135 किमी है। ऐसे में गंभीर स्थिति में रोगी को नीमच से रतलाम या उदयपुर ले जाना बड़ा ही दिक्कत भरा है। धरना प्रदर्शन को कांग्रेस नेता राजकुमार अहीर, पूर्व मंडी अध्यक्ष उमरावसिंह गुर्जर, जिला प्रेस क्लब अध्यक्ष श्याम गुर्जर, जिला पंचायत सदस्य मधु बंसल, जन जागरण मंच के कपिलसिंह चौहान, एडवोकेट महेश पाटीदार, जिला प्रेस क्लब सचिव भारत सोलंकी आदि ने संबोधित किया। संचालन राकेश सोन ने किया।

30 से अधिक ज्ञापन और समाज-संगठन के प्रतिनिधि रहे मौजूद-

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here