प्रेस नोट:-

0
189

नीमच। प्रदेश के यशस्वी मुख्यमंत्री कमलनाथ बाढ और अतिवृष्टि से हुए किसानों सहित हर वर्ग की नुकसानी की भरपाई के लिए गंभीर है। नीमच और मनासा विधानसभा में आंकलन के बाद मुआवजा वितरण का काम शुरू हो गया है, जो किसानों ने बैंक खाता नंबर सहित अन्य दस्तावेज पटवारी को उपलब्ध नहीं करवा पाए है, वे अतिशीघ्र अपने—अपने क्षेत्र के पटवारियों को दस्तावेज उपलब्ध करवाए, ताकि दीवाली भी अच्छी मनें और साथ ही किसान खाद—बीज की व्यवस्था भी कर सकें।
यह बात कांग्रेस नेता उमरावसिंह गुर्जर ने कही। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री कमलनाथजी ने मुआवजा वितरण का कार्य प्रथमिकता से लिया है। किसानों के खाते में राशि आना शुरू हो गई है।  इस बात को लेकर किसानों में खुशी है।बाढ और अतिवृष्टि से जो किसानों को नुकसान हुआ है, उसकी भरपाई का कार्य युद्ध स्तर पर चल रहा है। नीमच विधानसभा में 48 हजार किसानों का करीब 80 करोड का मुआवजा स्वीकृत हुआ है वहीं मनासा विधानसभा के लिए 26 हजार किसानों के लिए 47 करोड का मुआवजा स्वीकृत हो चुका है। बारिश और बाढ से चहुंओर हाहाकार मचा हुआ था और खून के आंसू रो रहे थे, ऐसी स्थिति में प्रदेश के मुखिया कमलनाथजी बाढ पीडितों से मिलने के लिए रामपुरा आए थे। तत्पसमय किसान नेता श्री गुर्जर ने नीमच और मनासा विधानसभा में हुए भारी नुकसान के संबंध में मुख्यमंत्री को अवगत कराया था। मुआवजा वितरण कार्य शुरू किए जाने से किसानों की तरफ से श्री गुर्जर ने मुख्यमंत्री का आभाव व्यक्त किया है। श्री गुर्जर ने बताया कि पूर्व भाजपा सरकार प्रदेश पर 1 लाख 60 हजार का कर्जा छोडकर गई थी। प्रदेश कांग्रेस सरकार को खजाना खाली मिला। विपरीत परिस्थितियों के बाद भी प्रदेश सरकार ने मुआवजा जारी की है। इससे किसानों में खुशी की लहर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here