बाड़े के विवाद के कारण महिला के साथ मारपीट करने वाली एक महिला सहित तीन आरोपीयों को सजा व जुर्माना

0
136

नीमच। श्री मनोज कुमार राठी, न्यायिक दण्डाधिकारी प्रथम श्रेणी, नीमच द्वारा एक महिला सहित तीन आरोपीयों को बाड़े के विवाद के कारण एक महिला के साथ मारपीट करने के आरोप का दोषी पाकर न्यायालय उठने तक के कारावास एवं 1000-1000रू. के जुर्माने से दण्डित किया।

अभियोजन मीडिया सेल प्रभारी ए.डी.पी.ओ. रितेश कुमार सोमपुरा द्वारा घटना की जानकारी देते हुए बताया कि फरियादीया गुड्डीबाई व उसकी विधवा भाभी आरोपीया टम्माबाई का एक शामीलाती बाड़ा ग्राम डुंगलावदा में हैं, जिसके आधे-आधे हिस्से पर दोनो का कब्जा हैं। लगभग 5 वर्ष पूर्व दिनांक 20.04.2013 सुबह के 09ः00 बजे आरोपीया टम्माबाई, फरियादीया के हिस्से के बाड़े में नींव खुदवाने लगी, तो इस पर फरियादीया द्वारा आपत्ति लेने पर आरोपीया ने अन्य 2 आरोपी राहुल व दिनेश के साथ मिलकर फरियादीया के साथ धोने, कुल्हाडी के हत्थे व लात-घूंसो से मारपीट कर घायल कर दिया। चिल्लाने की आवाज सुनकर लीलाबाई व कामाबाई ने बीच-बचाव किया। फरियादीया ने घटना की रिपोर्ट पुलिस थाना नीमच केंट पर करी। पुलिस नीमच केंट द्वारा फरियादीया का मेडिकल कराकर शेष विवेचना उपरांत चालान न्यायालय में प्रस्तुत किया।

अभियोजन पक्ष की ओर से न्यायालय में विचारण के दौरान फरियादीया, घटना के चश्मदीद सहित सभी आवश्यक गवाहों के बयान कराकर मारपीट किये जाने के अपराध को संदेह से परे प्रमाणित किया गया। श्री मनोज कुमार राठी, न्यायिक दण्डिधिकारी प्रथम श्रेणी, नीमच द्वारा आरोपीगण (1) टम्माबाई पति शम्भूलाल गुर्जर, उम्र-35 वर्ष, निवासी-ग्राम डुंगलावदा, (2) राहुल पिता बरदीचंद अहीर, उम्र-21 वर्ष, निवासी-कलेक्टर कार्यालय के सामने, जिला-नीमच तथा (3) दिनेश पिता रमेश लोहार, उम्र-24 वर्ष, निवासी-ग्राम मोरवन, तहसील जावद, जिला नीमच को धारा 323/34 भादवि (एकमत होकर मारपीट करना) के अंतर्गत न्यायालय उठने तक के कारावास एवं 1000-1000रू के जुर्माने से दण्डित किया गया, साथ ही जुर्माने की राशि को प्रतिकर के रूप में आहत गुड्डीबाई को प्रदान करने का आदेश भी पारित किया। प्रकरण में शासन की और से पैरवी श्री विवेक सोमानी, ए.डी.पी.ओ. द्वारा की गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here