भाभी के साथ मारपीट करने वाले देवर को सजा व जुर्माना ।

0
305

नीमच। श्री मनोज कुमार राठी, न्यायिक दण्डाधिकारी प्रथम श्रेणी, नीमच द्वारा विधवा भाभी के साथ मारपीट करने वाले देवर को न्यायालय उठने तक के कारावास व 500रू. जुर्माने से दण्डित किया।

जिला अभियोजन अधिकारी श्री आर. आर. चौधरी द्वारा घटना की जानकारी देते हुए बताया कि फरियादीया जशोदाबाई के पति तथा पुत्र की मृत्यु हो चुकी हैं तथा आरोपी भैरूलाल उसका देवर हैं। घटना लगभग 04 वर्ष पुरानी दिनांक 11.05.2015 सुबह के 07 बजे ग्राम लसुडी तंवर स्थित फरियादीया के घर के बाहर की घटना हैं। फरियादीया कपड़े धो रही थी तभी आरोपी आया और बोला कि तुने तेरे खेत के गेहु के खापे (ठुंढे) जलाये, जिससे मेरा नुकसान हो गया और ऐसा बोलकर आरोपी ने फरियादीया को थप्पड़ मारे। फरियादीया ने घटना की रिपोर्ट पुलिस थाना नीमच सिटी पर की, जिस पर से अपराध क्रंमाक 193/15, धारा 323 भादवि के अंतर्गत पंजीबद्व कर विवेचना उपरांत चालान न्यायालय में प्रस्तुत किया।

श्री विवेक सोमानी, ए.डी.पी.ओ. द्वारा अभियोजन पक्ष की ओर से न्यायालय में फरियादीया सहित सभी आवश्यक गवाहों के बयान कराये जिस आधार पर न्यायालय ने आरोपी को मारपीट के अपराध का दोषी पाया। श्री मनोज कुमार राठी, न्यायिक दण्डाधिकारी प्रथम श्रेणी, नीमच द्वारा आरोपी भैरूलाल पिता मोहनलाल ब्राम्हण, उम्र-59 वर्ष, निवासी ग्राम लसुड़ी तंवर, हाल मुकाम कपासन, जिला चित्तोडगढ़ (राजस्थान) को धारा 323 भादवि (मारपीट करना) में न्यायालय उठने तक के कारावास एवं 500रू. जुर्माने से दण्डित किया, साथ ही फरियादीया को 500 प्रतिकर प्रदान करने का आदेश भी दिया। न्यायालय में शासन की और से पैरवी श्री विवेक सोमानी, एडीपीओ द्वारा की गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here