भूमाफिया के कब्जे से मुक्त करवाई बगीचा नंबर 41, 46, 46 ए और 47 की भूमि ।

0
294

नीमच में आज मंगलवार को सबसे बडे भू माफिया राजेश अजमेरा द्वारा सरकारी जमीन पर अवैध रूप से कब्जा और भूखंड काटने को लेकर बडी कार्रवाई हुई। पुलिस प्रशासन दलबल के साथ बाबा शहाबुदृदीन रेड पर स्थित बगीचा नंबर 41, 46, 46 ए और 47 पहुंचा। यहां पर भू माफिया एवं भाजपा से जुडे हुए पार्षद राजेश अजमेरा द्वारा करीब एक लाख वर्गफीट करोडों की सरकारी जमीन पर कई सालों से प्लाट काटने का काम चल रहा था। भू माफिया द्वारा करीब सौ भूखंड अवैध रूप से काट कर बेच दिए गए थे। सीएम के आप्रेशन भू माफिया अभियान के तहत शहर के सबसे बडे भू माफिया पर आज पुलिस प्रशासन ने दबंगई से कार्रवाई को अंजाम दिया। करोडों की जमीन को भू माफिया राजेश अजमेरा के कब्जे से मुक्त करवाई और नपा का बोर्ड लगवाया गया।
भू माफिया राजेश अजमेरा नपा के अधिकारी और कर्मचारियों की मिलीभगत से अब तक कार्रवाई से बचता आया था। यहां हद तो इस बात की है कि भू माफिया राजेश अजमेरा ने बगीचा नंबर 41, 46, 47 जो कि नगरपालिका की प्रापर्टी है, पार्षद पद का दुरूपयोग करते हुए इस माफिया ने यहां पर कई भूखंड काट दिए। कई शिकायतें भी इस मामले में हुई थी। यह मामला आर्थिक अन्वेषण ब्यूरो में भी दर्ज हुआ है और भू माफिया राजेश अजमेरा एवं उसके नौकर शंकर सिंहल जिसके नाम से उसने बैनामी संपत्ति खदीतता है और फरोख्त करता है, भादसं की धारा 420 सहित अन्य धाराओं में ईओडब्ल्यू में मामला दर्ज है और मामले की जांच चल रही है। नगरपालिका यहां पर अवैध रूप से सरकारी जमीन पर की जा रही भू माफिया राजेश अजमेरा द्वारा खरीद—फरोख्त के मामले में चुप्पी साधे हुए थे, किन्तु आॅपरेशन भू माफिया के तहत यह भू माफिया बच नहीं सका और भाजपा के तथाकथित भू माफिया की एक भी नहीं चली और इस भू माफिया के अवैध कारनामें पर नपा का बुलडोजर चला।
करोडों की जमीन सुरक्षित— नपा ने लगाया बोर्ड
एसडीएम एसएल शाक्य, नपा सीएमओ रीयाजुद्दीन कुरैशी, नायब तहसीलदार प्रशस्तीसिंह, नीमच कैंट टीआई, पुलिस बल और नपा का अमला मंगलवार दोपहर करीब 12 बजे पहुंचां करीब एक घंटे तक कार्रवाई चली। दो जेसीबी, ट्रेक्ट्रल—ट्रॉली से अवैध कब्जा हटाया गया। यहां पर भू माफिया द्वारा सरकारी जमीन पर बेचे गए भूखंडों पर कई लोगों ने अवैध तरीके से मकान भी बना लिए है, इस मामले में एसडीएम ने जांच बैठाई है,तमाम दस्तावेजो की जांच प्रशासन करेगा। करीब 50 हजार वर्गफीट को अतिक्रमण मुक्त किया गया है।

टारगेट पर भू माफिया राजेश अजमेरा, शहर में कई जगहों पर अवैध कारनामें, स्कीम नंबर 34—36 में एक दर्जन अवैध भूखंड हथियाए, दो जगह अवैध बहुमंजिला ईमारतें तानी—
करीब पंद्रह साल पहले भू माफिया राजेश अजमेरा शहर में एक थैला लेकर नमक बेचता था और कभी भाजपा तो कभी सपाक्स का झंडा थामकर यह कार्रवाई से बचता रहा और हर बार माफ होता गया और बार—बार किया इसे माफ, अब बन बैठा सबसे बडा भू माफिया। भू माफिया राजेश अजमेरा ने कूटरचित दस्तावेजों के आधार पर रजिस्ट्रीयां, नामांतरण करवाना, सरकारी जमीन पर कब्जा कर भूखंड काटना जैसे कई शार्टकट रास्ते अपनाकर अवैध धन प्राप्त् कर करोडों का आसामी बन गया। बीजेपी के राज में बीते पंद्रह सालों के दौरान खूब अवैध कारनामें किए और अब सीएम के आॅपरेशन अभियान में यह सबसे बडा भू माफिया टारगेट पर है। सीएम तक इसके कारनामों की फाईल पहुंच गई है। इसकी अवैध बहुमंजिला ईमारतें और अवैध भूखंडों को भी जिला पुलिस प्रशासन ने निशाने पर लिया है। जल्द ही अन्य अवैध ताबूतों पर कार्रवाई होने वाली है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here