मिलावटखोरों की जमानत खारीज कर भेजा जेल।

0
202

नीमच। श्री सदाशिव दॉगोड़े, न्यायिक दण्डाधिकारी प्रथम श्रेणी, नीमच द्वारा मिलावटी रंग वाला अवमानक धनिया बेचने के आरोपी द्वारा प्रस्तुत जमानत आवेदन का अभियोजन द्वारा मौखिक विरोध करने पर जमानत आवेदन खारिज कर आरोपी को जेल भेजा गया।

श्री विवेक सोमानी, एडीपीओ द्वारा घटना की जानकारी देते हुए बताया कि खाद्य सुरक्षा अधिकारी राजु सोलंकी द्वारा दिनांक 20.06.2019 को फर्म मेसर्स मनीष कुमार, आशीष कुमार, आनंद भण्डार, अरनिया कुमार सादडी रोड़ नीमच से 2 किलो खुला धनिया जॉच हेतु निर्धारित कीमत अदा करके लिया, जिसको जॉच हेतु उनके द्वारा राज्य खाद्य परीक्षण प्रयोगशाला भेजा जहॉ से प्राप्त रिपोर्ट में धनिये में अतिरिक्त कृत्रिम रंग मिला हुआ पाया जाकर उसको अवमानक घोषित किया गया। पूर्व में भी इस फर्म से जप्तशुदा धनिये की जॉच कराने पर उसे अवमानक घोषित किया गया था। आरोपी द्वारा बार-बार धोखाधडी किये जाने के उद्देश्य से अवमानक धनिये का विक्रय किया जा रहा था जिस कारण खाद्य सुरक्षा अधिकारी द्वारा उक्त फर्म के मालिक आरोपी मनीष कुमार के विरूद्ध पुलिस थाना बघाना में दिनांक 05.04.2019 को अपराध क्रमांक 241/19, धारा 420, 272, 273 भादवि के अंतर्गत प्रथम सूचना रिपोर्ट पंजीबद्ध करवायी गई। पुलिस बघाना द्वारा आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय में प्रस्तुत किया गया।

श्री विवेक सोमानी, एडीपीओ द्वारा आरोपी द्वारा प्रस्तुत जमानत आवेदन का मौखिक में विरोध करते हुए तर्क किया कि आरोपी द्वारा धोखाधडी किये जाने के उद्देश्य से मिलावटी कलर वाला अवमानक धनिये का विक्रय किया जा रहा हैं, इसलिए मानव स्वास्थ्य पर विपरीत प्रभाव पड़ने वाले अपराध की गंभीरता को देखते हुए आरोपी को जमानत न दी जावे। श्री सदाशिव दॉगोड़े, न्यायिक दण्डाधिकारी प्रथम श्रेणी, नीमच द्वारा आरोपी मनीष पिता रमेशचंद्र अग्रवाल, उम्र-35 वर्ष, निवासी-कृष्णा नगर, एस-9 बघाना, जिला नीमच द्वारा प्रस्तुत जमानत आवेदन को खारिज कर उसे जेल भेज दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here