मोगरी से मार-पीट करने वाले भाई-भाभी को कारावास एवं जुर्माने का दण्ड।

0
405

नीमच। श्री नरेन्द्र कुमार भण्डारी, न्यायिक दण्डाधिकारी प्रथम श्रेणी, नीमच द्वारा आरोपी भाई-भाभी को मोगरी से फरियादी के साथ मारपीट करने के आरोप का दोषी पाते हुए कारावास एवं जुर्माने के दण्ड से दण्डित किया। जिला लोक अभियोजन अधिकारी श्री आर. आर. चौधरी द्वारा घटना की जानकारी देते हुए बताया कि फरियादी कमलसिंह का उसके बडे भाई रामविलास व भाभी प्रेमलताबाई से ग्राम-हरवार स्थित पुश्तैनी मकान का विवाद चल रहा हैं, जिसके बँटवारे हेतु फरियादी द्वारा तहसील जीरन में आवेदन लगाया था, जिसके बाद तहसील जीरन कार्यालय से नोटिस मिलने के बाद दोनों आरोपीगण भाई-भाभी ने मकान मरम्मत का काम बंद कर दिया था। आरोपीगण भाई-भाभी द्वारा दो दिन बाद दिनांक 02.11.2015 को पुनः मकान मरम्मत का काम प्रारंभ कर दिया गया, जिसको रोकने के लिए दिन के 12ः30 बजे फरियादी गया तो दोनों आरोपीगण भाई-भाभी उससे कहॉ कि मकान मरम्मत का काम बंद नही होगा, आरोपी भाई ने फरियादी के दोनों हाथ पकड़ लिये और आरोपिया भाभी ने मोगरी से फरियादी के सिर पर मारा जिससे खून निकलने लगा। फरियादी के चिल्लाने की आवाज सुनकर गिरीराज मंत्री ने बीच-बचाव किया। फरियादी ने आरोपीगण भाई-भाभी के खिलाफ रिपोर्ट पुलिस थाना जीरन पर की जिस पर से अपराध क्रमांक 243/2015, धारा 323/34 भादवि के अंतर्गत पंजीबद्ध होकर, पुलिस जीरन द्वारा विवेचना पूर्ण कर चालान न्यायालय में प्रस्तुत किया गया।
न्यायालय में विचारण के दौरान फरियादी एवं उसका मेडिकल करने डॉक्टर सहित सभी आवश्यक गवाहों के बयान न्यायालय में कराकर आरोपीगण भाई-भाभी के विरूद्ध अपराध को संदेह से परे प्रमाणित कराया गया। श्री नरेन्द्र कुमार भण्डारी, न्यायिक दण्डाधिकारी प्रथम श्रेणी, नीमच द्वारा आरोपीगण (1) प्रेमलताबाई पति रामविलास जाट, उम्र-48 वर्ष तथा (2) रामविलास पिता भवंरलाल जाट, उम्र-52 वर्ष, दोनों निवासी-ग्राम हरवार, तहसील जीरन, जिला नीमच को धारा 323/34 भादवि (एकमत होकर मारपीट करना) में न्यायालय उठने तक के कारावास एवं 1,000-1,000रू. जुर्माने से दण्डित किया, साथ ही जुर्माने की कुल रकम 2,000रू. फरियादी कमलसिंह को प्रतिकर के रूप में प्रदान करने का आदेश दिया। न्यायालय में शासन की ओर से पैरवी श्री आकाश यादव, एडीपीओ द्वारा की गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here