लूटपाट व हत्या करने वाले 4 आरोपियो को आजीवन कारावास व लूट का सामान खरीदने वाले 1 आरोपी को 3 वर्ष का कारावास।

0
96

नीमच। श्रीमान जसवंत सिंह यादव, अपर सत्र न्यायाधीश, नीमच द्वारा कुल 4 आरोपियो को लूटपाट कर हत्या करने के आरोप का दोषी पाकर आजीवन कारावास व 5,000-5,000रू. जुर्माने व 1 व्यक्ति को लूट का सामान खरीदने के आरोप का दोषी पाकर 3 वर्ष का कारावास व 5,000रू. जुर्माने से दण्डित किया।

अभियोजन मीडिया सेल को विशेष लोक अभियोजक/जिला अभियोजन अधिकारी श्री जगदीश चौहान द्वारा घटना की जानकारी देते हुए बताया कि घटना लगभग 3 वर्ष पूर्व दिनांक 06.07.2017 को ग्राम सेमली चंद्रावत, नीमच की हैं। फरियादी कंवरलाल ने थाना नीमच सिटी में रिपोर्ट लिखाई थी कि वह शशिकांत जैन, सावलिया खाद बीज भण्डार की दुकान पर मुनीम का काम करता हैं, घटना दिनांक को फरियादी और मृतक वाहन चालक गोपाल नीमच से अपनी टाटा 407 लोड़िंग गाडी में किराने का सामान तथा खाद बीच भरकर झांतला के लिए करीब रात के 8 बजे रवाना हुए थे, जब उन्होने ग्राम नेवड़ पार किया तो एक मोटरसायकल पर बैठे 4 व्यक्ति ने उन्हे पीछे से आवाज लगाई कि तुम लोगो से एक्सीडेंट हो गया हैं, गाड़ी रोको, जब हमने गाड़ी नही रोकी तो उन्होने अपनी मोटरसायकल हमारी गाड़ी के सामने लगा दी, जब मृतक गोपाल गाड़ी से उतरा तो आरोपीगण ने गोपाल के साथ मारपीट कर दी और उनमें से दो आरोपीयो ने मृतक गोपाल को अपनी मोटरसायकल में बैठा लिया और उसे सेमली चंद्रावत से सेंदिरया के कच्चे रास्ते पर ले जाकर पत्थरो से मारकर हत्या कर दी तथा अन्य दो आरोपियो ने फरियादी के साथ मारपीट की व मोबाईल और किराने का सामान लूट कर टाटा 407 लोड़िंग गाड़ी को लेकर वहॉ से भाग गये। फरियादी ने घटना अपने मालिक शशिकांत को बतायी, जिस पर से उनके द्वारा थाना नीमच सिटी में अपराध क्रमांक 27/2017, धारा 302, 394/34 भादवि के अंतर्गत पंजीबद्ध कर, शेष विवेचना उपरांत चालान न्यायालय में प्रस्तुत किया गया।

अभियोजन की ओर से श्री जगदीश चौहान डी.पी.ओ. द्वारा न्यायालय में सभी आवश्यक गवाहों के बयान कराकर अपराध को प्रमाणित कराया गया तथा माननीय संचालक लोक अभियोजन श्री पुरूषोत्तम शर्मा द्वारा उक्त प्रकरण की लगातार समीक्षा कर मार्गदर्शन किया जा रहा था। दण्ड के प्रश्न पर तर्क दिया कि आरोपीगण द्वारा एकत्रित होकर षड़यंत्र करके लूटपाट कर हत्या कारित की हैं, जो एक गंभीर अपराध किया गया हैं, इसलिए आरोपीगण को कठोर दण्ड से दण्डित किया जावे। श्रीमान जसवंत सिंह यादव, अपर सत्र न्यायाधीश, नीमच द्वारा आरोपीगण (1) राजू पिता गोवर्धन बंजारा, उम्र-34, निवासी ग्राम धीनवा, (2) राधेश्याम पिता कालूराम बंजारा, उम्र-31 वर्ष, निवासी ग्राम नया खेड़ा, दोनो निवासी थाना निम्बाहेड़ा, जिला चित्तौड़गढ़ (राजस्थान), (3) लेखराम पिता रमेश बावरी, उम्र-24 वर्ष व (4) राजू पिता दौलतराम भांभी, उम्र-30 वर्ष, निवासी, दोनो निवासी ग्राम चंद्रवासा, थाना मल्हारगढ, जिला मंदसौर म.प्र. को धारा 302 भादवि में आजीवन कारावास व 5,000-5,000 रूपये जुर्माना तथा धारा 394/34 भादवि में आजीवन कारावास व 5,000-5,000 रूपये जुर्माने से दण्डित किया तथा लूट का माल खरीदने वाले (5) आरोपी गोपाल पिता सीताराम बावरी, उम्र-37 वर्ष, निवासी ग्राम चंदवासा, थाना मल्हारगढ़ जिला मंदसौर को धारा 411 भादवि में 3 वर्ष का कारावास व 5,000रू. जुर्माने से दण्डित किया गया। न्यायालय में शासन की और से पैरवी श्री जगदीश चौहान, डीपीओ द्वारा की गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here