लोड ओवरलोड में क्या है आरटीओ बरखा गौड़ का सीक्रेट !

0
356

नीमच । नीमच जिले की जिला परिवहन अधिकारी हमेशा से ही सुर्खियों में बनी रहती है । उनके द्वारा लगातार चुनाव आयोग के निर्देशों का पालन करने का हवाला दे जनप्रतिनिधियों पर तो कार्यवाही की जाती रही है पर नीमच जिले में खुलेआम चल रहे अवैध परिवहन पर उनकी नजर नहीं पड़ती है । चाहे वह नीमच जिले की सीमाओं के अंदर लाकर वाहनों को ओवरलोड करने का हो या अवैध रूप से चल रही जीपों का ! यातायात परिवहन के नियमों का पालन करने की दुहाई देने वाली आरटीओ अधिकारी को नियमविरुद्ध तरीके से नियमों को ताक पर रख बसों को दिये जाने वाले परमिट पर कभी नजर नहीं पड़ती है या फिर वहाँ भी कोई सीक्रेट है । जिस प्रकार से आरटीओ अधिकारी द्वारा पत्रकारों को किसी सीक्रेट की दुहाई दे कैमरा बन्द करने की बात कही गई और अभद्र व्यवहार किया गया उससे स्पष्ट है कि आरटीओ मेडम को इस पूरे मामले की जानकारी पहले से ही थी और वह यह नहीं चाहती थी कि यह मामला मीडिया में सुर्खियां बने ! आज पूरे मामले को लेकर नीमच जिला प्रेस क्लब द्वारा जिला कलेक्टर के नाम ज्ञापन सौंप आरटीओ अधिकारी के विरुद्ध उचित कार्रवाई करने की मांग की गई । जिस प्रकार का अभद्र व्यवहार आरटीओ बरखा गौड़ द्वारा जनहित की आवाज उठाने वाले पत्रकारों से किया गया और उनकी आवाज दबाने का प्रयास किया गया तो आमजन उनके विभाग में क्या दुर्दशा होती होगी ! नीमच जिले की अधिकतर सीमाएं राजस्थान बार्डर से लगी हुई है और यहाँ से टोल बचाने के लिये रोजाना सैकड़ो वाहन अवैधानिक तरीके से वहां से निकलते है क्या उसमें भी कुछ सीक्रेट है ! सिक्रेट की बात कर आरटीओ मेडम अपने खुद के जाल में फंसती नजर आ रही है और पत्रकारों ने भी आरटीओ मैडम के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है और जल्द ही आरटीओ मैडम और लोड ओवरलोड के कई सीक्रेट सामने आ सकते है !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here