लड़की का बुरी नियत से पीछा करने वाले आरोपी को सजा एवं 5,000रू. जुर्माना ।

0
582

नीमच। श्री नीतिराज सिह सिसौदिया, अपर सत्र न्यायाधीश, जावद द्वारा एक आरोपी को नाबालिग लड़की का बुरी नियम से लगातार पीछा करने के आरोप का दोषी पाते हुए न्यायालय उठने तक के कारावास एवं कुल 5,000रू. के जुर्माने से दण्डित किया।
जिला लोक अभियोजन अधिकारी श्री आर. आर. चौधरी द्वारा घटना की जानकारी देते हुए बताया कि घटना लगभग दो वर्ष पुरानी हैं, नाबालिग लड़की ग्राम मोडी में माता पिता के साथ निवास करती हैं तथा कक्षा 10वी में पढ़ती हैं। नाबालिग जब भी स्कूल जाने के लिए घर से निकलती थी तो आरोपी बुरी नियत से लगातार उसका पीछा करता था, जब नाबालिग ने देखा कि आरोपी लगातार 01 माह से स्कूल आते-जाते समय उसका बुरी नियत से पीछा कर रहा हैं, तो उसके द्वारा इस घटना की जानकारी उसके माता-पिता को दी गई और आरोपी के विरूद्ध पुलिस थाना जावद में रिपोर्ट की गई, जिस पर से अपराध क्रमांक 93/16, धारा 354(घ) भादवि एवं 11/12 पॉक्सो एक्ट में अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। पुलिस जावद द्वारा विवेचना पूर्ण कर चालान न्यायालय में प्रस्तुत किया गया।
अभियोजन पक्ष द्वारा नाबालिग पीड़िता सहित सभी आवश्यक गवाहों के बयान न्यायालय में कराकर आरोपी के विरूद्ध अपराध को संदेह से परे प्रमाणित कराया गया। श्री नीतिराज सिंह सिसौदिया, अपर सत्र न्यायाधीश, जावद द्वारा आरोपी रामनिवास पिता नाथूलाल धनगर गायरी, उम्र-21 वर्ष, निवासी-ग्राम मोड़ी, थाना जावद, जिला नीमच को धारा 354(घ) भादवि में न्यायालय उठने तक का कारावास व 2,500रू. जुर्माना तथा धारा 11/12 पॉक्सो एक्ट (नाबालिग का बुरी नियत से पीछा करना) में न्यायालय उठने तक का कारावास व 2,500रू. जुर्माना, इस प्रकार आरोपी को न्यायालय उठने तक का कारावास व कुल 5,000रू. जुर्माने से दण्डित किया गया तथा जुर्माने की राशि 5,000रू. पीड़िता को प्रतिकर के रूप में प्रदान करने का आदेश दिया गया। न्यायालय में शासन की ओर से पैरवी अतिरिक्त जिला लोक अभियोजन अधिकारी श्री जगदीश चौहान द्वारा की गई ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here