शहीदों के हक में मांग उठाने वाले फौजी को मिली जान से मारने की धौंस, अमेरिका से जारी हुआ फरमान, कहां भाई धुल में मिला देगा तुझें ।

0
471

नीमच स्‍थानिय बंगला नम्‍बर 11 मिसलीनियस वाला मामला अब तुल पकडता जा रहा है आज आरटीआई एक्‍टीविस्‍ट परमजीत फौजी ने कोतवाली थाने मे आवेदन देकर शिकायत की के अमेरिका रहवासी जिया डेरकी के भाई इबराहीम डेरकी ने उनके घर पर जाकर उन्‍हे जान से मारने की धौंस दी और कहा कि मेरा भाई अमेरिका से उड चुका है वो नीमच आकर तुम्‍हे निपटा देगा । गौरतलब है कि आरटीआई एक्‍टीविस्‍ट फौजी ने दो दिन पूर्व नीमच नगर पालिका में आवेदन देकर जिया डेरकी से सम्‍बधिंत बंगला नम्‍बर 11 मिसलिनियस के दस्‍तावेज मांगे थे और अदेशा जताया कि अमेरिका रहने वाले जिया डेरकी शहर के बीच स्थित बेशकिमती भूमि को खुर्दबुर्द कर सकतें है जबकि सरकार ने बंगला बंगीचा को लेकर जो कानून बनाया है उसके अनुसार मात्र पांच हजार फूट भूमि ही बंगला मालिक को मिलेगी फौजी ने बाकि बची जमीन को व्‍यवस्‍थापन बोर्ड ले जाने की मांग भी कि थी और नपा आवेदन लगा कर प्रस्‍ताव रखा था कि यह जमीन रिटार्यड फौजीयों एंवम कारगिल के शहीद परिवारो को दे दिया जायें । आज कोतवाली में दिये अपने आवेदन में फौजी ने लिखा कि मेरी इस मांग और कार्रवाही से नाराज होकर जिया डेरकी ने अपने भाई इबराहीम उर्फ रोजी को मेरे घर भिजवाया जिसने सरेआम मुझे अपने भाई का नाम लेकर धमकाया और कहां कि सारी नेतागिरी मेरा भाई जिया खत्‍म कर देगा । फौजी को सरेआम धमकाने को शहर के सामाजिक संगठन और आरटीआई एक्‍टीविस्‍ट गंभीरता से ले रहें है उनका कहना है यह प्रजातंत्र पर हमला है इस मामले में जारी एक बयान में एंटीकरपशन सेन दिल्‍ली के सदस्‍य अमित शर्मा, कायस्‍थ समाज के अध्‍यक्ष अमित सक्‍सेना, जिला अस्‍पताल सफाई कर्मचारी संघ के अध्‍यक्ष रमेश कल्‍याणी, विनोद कल्‍याणी सहित विभिन्‍न सामाजिक संगठनो ने फौजी को मिली धमकी की कडे शब्‍दो में निंदा की है और पुलिस से मांग की है कि इस मामले में तत्‍काल कार्रवाही करें ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here