सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रतिभा निखारने का सशक्त माध्यम – पुरोहित…… ज्ञान सिद्धि मॉडल स्कूल जावी का द्वितीय वार्षिकोत्सव सम्पन्न….

0
248

जावी – सांस्कृतिक कार्यक्रम छात्र, छात्राओं के छिपी प्रतिभा को निखारने का सशक्त माध्यम है प्रत्येक छात्र, छात्राओं के अंदर कोई ना कोई ऐसी प्रतिभा छिपी रहती है जिसे समय पर तराशा जाएं तो वह समाज का प्रतिनिधित्व करने में पीछे नही रहते है। ज्ञान सिद्धि मॉडल स्कूल इसी तर्ज पर छात्र, छात्राओं के अंदर छिपी प्रतिभाओं को तराशने का कार्य कर रहा है। वर्तमान की परिस्थितियों से लोहा लेने के लिये उच्चतम शिक्षण कार्य के साथ साथ शारीरिक, मानसिक, आध्यात्मिक सभी प्रकार से सर्वागीण विकास के लिये कृतसंकल्पित है। उक्त विचार सरदार वल्लभभाई पटेल पाटीदार समाज धर्मशाला परिसर में ज्ञान सिद्धि मॉडल स्कूल जावी के द्वितीय सांस्कृतिक कार्यक्रम में बतौर अतिथि जनपद सदस्य प्रतिनिधि योगेश पुरोहित ने व्यक्त किए। कार्यक्रम में सेवानिवृत्त प्राचार्य मोहनलाल पाटीदार ने सम्बोधित करते हुए कहा कि ज्ञान सिद्धि मॉडल स्कूल अपने नाम के अनुसार अपनी सार्थकता सिद्ध कर रहा है बहुत कम समय मे छात्र, छात्राओं के चहुमुंखी विकास के लिये विद्यालय की संचालन टीम की जो योजनाएं बनाई है वह काबिले तारीफ़ है। इस प्रकार के सांस्कृतिक कार्यक्रम हमेशा होते रहना चाहिए जिससे कि छात्र, छात्राओं में आत्मनिर्भर बनने की ऊर्जा का संचार होता रहे। कार्यक्रम में समाजसेवी उमेश शर्मा ने सम्बोधित करते हुए कहा है कि बेटी है तो कल है बेटी बचाओं बेटी पढ़ाओ की बात को सार्थक करने के लिये शासन स्तर पर अनेक प्रयास किए जा रहे है हम सभी को इस बात का अनुसरण करना चाहिये और सभी को अपने स्तर पर बेटी बचाने बेटी पढ़ाने की मुहिम में सहभागिता करनी चाहिये।कार्यक्रम में मंचासीन अतिथि सरपंच रामराज पाटीदार, सेवानिवृत्त शाखा प्रबंधक बंशीलाल खाती ने भी सम्बोधित किया। सांस्कृतिक कार्यक्रम का विधिवत शुभारंभ आमंत्रित अतिथियों द्वारा वीणावादिनी मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्ज्वलित कर किया अतिथियों का अभिनन्दन संस्था संचालन पंकज मोदी, विनोद पाटीदार, सहयोगी शिक्षक मदन पाटीदार और विजय पाटीदार ने किया। सांस्कृतिक कार्यक्रम में विद्यालय के नन्हे नन्हे नोनिहालों ने आकर्षक नृत्य और नाटक का प्रस्तुतिकरण किया जिसमें विशेष रूप से एक दन्ता, लकड़ी की काठी, आल इज वेल, मेरा रंग दे बसंती चोला, लुंगी डांस, ओर रंग दे, कान्हा सोजा ज़रा, गलती से मिस्टेक, आज है सन्डे, टुकुर टुकुर ब्राजील, छोटा बच्चा जान के, नगाड़ा संग ढोल बाजे, जुबी डुबी, अभी तो पार्टी शुरू है, बन ठन चली, छोगारा तारा, चार चार बंगड़ी, शानू केडी, मस्ती की पाठशाला सहित पैरोडी और नाट्य की मनमोहक प्रस्तुतियां दी। सांस्कृतिक कार्यक्रम में प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से सहयोग करने वालों का संस्था संचालक ने धन्यवाद ज्ञापित किया। कार्यक्रम में श्रीमती खुशबू मोदी, श्रीमती मधु पाटीदार, श्रीमती आरती शर्मा, सुश्री मेघना निनामा, श्रीमती दिव्या राठौर, सुश्री कविता परिहार, सुश्री अर्पिता जैन, सुश्री वर्षा पाटीदार का सराहनीय सहयोग रहा। सांस्कृतिक कार्यक्रम का प्रभावी सामूहिक संचालन विद्यालय की छात्रा प्रिया पाटीदार व संस्था संचालक विनोद पाटीदार ने किया। आभार विनोद पाटीदार ने माना।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here