सामूहिक दुष्‍कर्म की घटनाओं से दहला मध्‍यप्रदेश, तीन जगहों पर हुई शर्मनाक वारदातें

0
311

सामूहिक दुष्‍कर्म की घटनाओं से दहला मध्‍यप्रदेश, तीन जगहों पर हुई शर्मनाक वारदातें

नईदुनिया, इंदौर। मध्य प्रदेश में गुरुवार को दुष्कर्म और सामूहिक दुष्कर्म के तीन मामले सामने आए। इनमें मासूम बच्चियों और छात्रा को शिकार बनाया गया है। इंदौर के महू और भोपाल के मामलों में तो अपनों ने ही रिश्तों को तार-तार कर दिया।

टॉफी के बहाने सात साल की बच्ची का सामूहिक दुष्‍कर्म

पहला मामला इंदौर की महू तहसील के सिमरोल इलाके का है। यहां सात साल की मासूम बच्ची के साथ तीन नाबालिगों ने सामूहिक दुष्कर्म किया है। आरोपितों में एक बच्ची का 14 साल का चचेरा भाई है। वह टॉफी देने के बहाने बच्ची को जंगल ले गया और फिर दो अन्य नाबालिग दोस्तों के साथ मिलकर उससे सामूहिक दुष्कर्म किया।

आरोपितों ने दुष्‍कर्म के बाद बच्ची को किसी को कुछ भी बताने पर मारने की बात कही, इससे बच्‍ची डर गई। बुधवार को माता-पिता को जब इस बात का पता चला तो उन्होंने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने फौरन कार्रवाई करते हुए आरोपितों को पकड़ लिया है। बच्ची को इंदौर के एमवाय अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

पिता ने शर्मसार किया रिश्‍ता

दूसरा मामला भोपाल के गोविंदपुरा इलाके का है, जहां सौतेले पिता ओमप्रकाश गिरी ने 11 साल की बेटी से दुष्कर्म किया। इस मामले का खुलासा आरोपित की पत्‍नी ने ही किया। पत्नी ने अपने पति को बेटी के साथ ज्यादती करते रंगे हाथों देख लिया था। पत्नी को देख आरोपित ओमप्रकाश भाग निकला। बाद में पुलिस ने बच्ची से दुष्कर्म के आरोप में उसे गिरफ्तार कर लिया।

स्‍कूल जा रही छात्रा का अपहरण कर बनाया शिकार

तीसरा मामला सागर जिले के केसली थाना क्षेत्र का है। यहां स्कूल जा रही 10वीं की छात्रा का दो आरोपितों ने रास्ते से अपहरण कर लिया और फिर सामूहिक दुष्कर्म किया। एक आरोपित गणेश प्रजापति को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here