सिंधिया की हत्या करने की धमकी कायराना कृत्य–दिग्विजय सिंह

0
488

भोपाल।  पूर्व मुख्यमंत्री श्री दिग्विजय सिंह ने दमोह जिले से भाजपा विधायक उमादेवी के पुत्र प्रिंसदीप द्वारा कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया की हटा आने पर गोली मारकर हत्या करने की धमकी को कायराना कृत्य निरूपित कर घोर निन्दा की है। उन्होने इस मामले में अब तक सरकार द्वारा की गई कार्यवाही को सार्वजनिक करने की मांग की।
श्री सिंह ने आज जारी बयान में कहा कि यही आर.एस.एस. और भाजपा का असली चरित्र है। ये संगठन विरोध खत्म करने की बजाय विरोधी को ही खत्म कर देने की भावना रखते है। इसी भावना से प्रेरित होकर नाथूराम गोडसे ने  राष्ट्रपिता महात्मा गॉंधी की गोली मारकर हत्या की थी। यही आर.एस.एस. का असली चाल, चरित्र और चेहरा है। समाज में घृणा, विद्वेष और नफरत फैलाना इनका मूल मंत्र है।
कांग्रेस नेता ने कहा कि  भाजपा के लोग कितने अहसान फरामोश है जो इस बात को भूल जाते है कि राजमाता विजयराजे सिंधिया ने भाजपा को अपने खून पसीने से सींचकर एक राष्ट्रीय दल का स्वरूप दिया था। तब उन्होने यह सपने में भी नही सोचा होगा कि उनकी पार्टी के एक विधायक का पुत्र भविष्य में उनके पौत्र को गोली मारकर हत्या करने की सार्वजनिक रूप से धमकी भी देगा। पूर्व मुख्यमंत्री श्री सिंह ने कहा कि संघ और भाजपा की इसी हिंसक विचारधारा का मैं सदैव विरोधी रहा हूँ। आज पुनः संघ और भाजपा का असली चेहरा देश के सामने आ गया है।

उन्होने कहा कि लोकतांत्रिक परंपराओं के अनुरूप सिंधिया परिवार में राजमाता से लेकर स्व.माधवराव सिंधिया और आज के युवा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया द्वारा जनप्रतिनिधि के रूप में की गई सेवाएं जन-जन के सामने है। इतिहास की तोड़-मरोड़कर व्याख्या करना संघ और भाजपा के लोगों की पुरानी फितरत है। भाजपा इस बात को समझ चुकी है कि इस शांति प्रिय प्रदेश की जनता भय और आतंक का साम्राज्य खड़ा करने वाली भाजपा को घर बिठाने का संकल्प ले चुकी है और इसी बौखलाहट में कांग्रेस के युवा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया को जान से मारने की धमकी दे रहे है। मैं इस कायराना हरकत की घोर निन्दा करता हूँ और सरकार से इस प्रकरण में कठोर कार्यवाही की मांग करता हूँ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here